सड़कों की हालत सुधारने के लिए दिल्ली सरकार का चुनावी स्टंट!

Election stunt of Delhi government to improve the condition of roads

सड़कों की हालत सुधारने के लिए दिल्ली सरकार का चुनावी स्टंट!

चुनाव पास आने पर ही क्यों ख्याल आया सड़कों का?:मनोज तिवारी

५ साल तक जो सड़कें गड्‌ढों वाली रहीं वो चुनाव से दो महीने पहले कैसे ठीक हो जाएंगी?:विजय गोयल

नई दिल्ली :(The Coverage Desk)४ वर्ष के बाद दिल्ली सरकार को सड़कों की याद आयी है और पीडब्ल्यूडी की सड़कों की हालत सुधारने के लिए दिल्ली सरकार ने एक अभियान शुरू किया है के दिल्ली के विधायक पी डब्लू डी की सड़कों को चेक करें।
भाजपा सांसद एवं प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने इस अभियान को चुनावी स्टंट बताया और कहा कि आम आदमी पार्टी सरकार पिछले साढ़े चार साल से दिल्ली में सत्ता में है, लेकिन चुनाव पास आने पर ही क्यों इन सड़कों का ख्याल आया? इससे पहले दिल्ली सरकार ने इन सड़कों की सुध क्यों नहीं ली? सड़कों पर गड्ढों पहले भी थे, लेकिन उन्हें ठीक करने की नीयत ही नहीं थी। उन्होंने कहा कि उन अनधिकृत कॉलोनियों का क्या, जहां सड़कें ही नहीं है।
मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली सरकार ने जनता के हितों के लिए कोई भी ऐसा काम नहीं किया है, जिसके आधार पर वह दोबारा जनता के वोट मांगने जाएं। साढ़े चार सालों के दौरान दिल्ली सरकार ने केवल झूठ और भ्रम ही फैलाया है। सत्ता में आने से पहले आम आदमी पार्टी सरकार ने लोगों से 70 वादे किए थे, लेकिन इनमें से कोई भी ऐसा वादा नहीं है, जिसे सरकार ने पूरा किया हो।
दिल्ली बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष विजय गोयल ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दावा कर रहे हैं कि पांच 5 साल में दिल्ली में विकास के बहुत काम किए, लेकिन उनके ही विधायकों ने झूठे विकास की पोल सोशल मीडिया पर खोल दी है।
उन्होंने कहा कि ५ साल तक जो सड़कें गड्‌ढों वाली रही, अब चुनाव से दो महीने पहले वो सड़कें कैसे ठीक हो जाएंगी?
नेताओं के साथ साथ दिल्ली की जनता ने भी इस अभियान को चुनावी स्टंट क़रार दिया है लोगों का कहना हैं दिल्ली के सड़कों की हालत बहुत ही ख़राब है लकिन पिछले ५ वर्षों मैं इन सड़कों की मरम्मत नहीं हुई अब जबकि चुनाव नज़दीक है चुनाव को देखते हुए अब दिल्ली सरकार अब अभियान चला रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *