If Kashmir is ours then why is Kashmiri not ours?

कश्‍मीर हमारा है तो कश्‍मीरी हमारे क्‍यों नहीं!

कश्‍मीर हमारा है तो कश्‍मीरी हमारे क्‍यों नहीं! (कलीमुल हफ़ीज़) हक़ बात कहो जुरअत-ए-इज़हार न बेचो यह बात सौ प्रतिशत सही है कि कश्‍मीर हिंदोस्‍तान का अटूट अंग है। आज़ादी …